हैलो दगड़ियों

0
2594

अगर आपकी प्रेमिका आपकी बेतुकी शायरियाँ और जोक्स सुनकर पितिन हो गयी हो , आप बदल गए हो पेले की चारि पतेड़ भी नहीं करते हो मेरी तारीफ़ मे अब कुछ गुनगुनाते भी नही हो. अगर आपको इस तरह के टॉन्ट सुनने को मिल रहे हैं तो समझ लो कुछ तो गड़बड़ है दया।

इससे पहले की आपकी दया तुम्हारे दिल का दरवाजा तोड़कर फुर्र हो जाये क्यों ना कुछ ऐसा किया जाय की दरवाज़ा भी ना टूटे दया भी ना रूठे। तो समय आ गया है दोस्तों कुछ तूफानी करने का , बहुत ही अंग्रेज़ों वाली नौटंकी ,क्यों ना अपनी वाली को पहाड़ी तरीके से इम्प्रेस किया जाय।

तो मैं आज आपसे शेयर करने जा रहा हूँ एक ऐसा ही पहाड़ी तरीका जिसको अप्लाई करने के बाद वो मौन (मधुमक्खी) की तरह भिन भिन भिन तुम्हारे पीछे लटपटी रहेगी। अगर आपकी प्रेमिका कॉलेज मे पढ़ रही है तो उसे उसकी सहेलियों के साथ कैंटीन या किसी पार्क मे बुलाये।

फिर इशारों इशारों मे उसकी नजरों से नज़र मिलाते हुए बोले की आज मे एक बहुत ही खूबसूरत लड़की जोकि मेरे दिल के बेहद करीब है उसके लिए चार शब्द लिख के लाया हूँ ये सिर्फ शब्द नहीं मेरे दिल से निकली आवाज़ है। बस फिर शुरू हो जाए शेरदा अनपढ़ की इस रोमांटिक कविता के साथ लड़कियों के मिजात पर लिखी गयी ये सबसे प्यारी कविता है। लीजिये सुनिए,,

कोछे तू

भुर -भुरु उज्याव जसि , जाणी रत्ते व्यान

भेकुएक सिकड़ कसी ,ऑडी जै नीसाण

खित्त कने हसन , त्यर झौव कने चान

क्वाठन कुरकाली लगु ,मुखक बुलाण

मिसिर है मिठ लागे , के कार्तिकक मौ छे तू

पुशेकी पालंग जसि ,ओ खडूनी कोछे तू।

दै जसि गोरी उजयी , भिगोत जै तीति

हिसालु किलमोड़ी कसी मणि खट्टी मीठी

आखों की तारी कसी ,आखों मे रे रिटी

उ देई फूलदेई हुछि, जो देई तू हिटी

हाथ पाते हरे जाछे, के रूढिक ड्यो छै तू

सुरबुरी बिराऊ जसि ओ च्यापणी कोछे तू।

यकीन करिये ये कोछे तू सुनने के बाद वो खुद ही बोल पड़ेगी मी छू उ

मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं

आपका >Pawan Pahadi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here